Quit-India-Movement

Quit India Movement in Hindi: जानें भारत छोड़ो आंदोलन से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

Quit India Movement: भारत छोड़ो आंदोलन (Quit India Movement) 8 अगस्त 1942 को महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) द्वारा शुरू किया गया था. आंदोलन की योजना क्रिप्स मिशन की विफलता के बाद बनाई गई थी. भारत छोड़ो आंदोलन को भारत छोडो आंदोलन, अगस्त क्रांति और अगस्त मूवमेंट (Bharat Chodo Andolan, August Kranti, and August Movement) के नाम से भी जाना जाता है. ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता के लिए भारत के संघर्ष में, भारत छोड़ो आंदोलन ने बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. हर साल 9 अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए भारत छोड़ो दिवस मनाया जाता है. इस वर्ष हम भारत छोड़ो आंदोलन की 80वीं वर्षगांठ मना रहे हैं.

Important Days In August 2022

Quit India Movement: Important Things to Know

ALL IMPORTANT POINTS IN HINDI

भारत छोड़ो आंदोलन से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों पर लेख में नीचे चर्चा की गई है:

  • 8 अगस्त 1942 को बॉम्बे में आयोजित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सत्र में, मोहनदास करमचंद गांधी की अध्यक्षता में भारत छोड़ो आंदोलन शुरू किया.
  • भारत छोड़ो आंदोलन के तीन चरण थे
  • भारत छोड़ो आंदोलन के पहले चरण में लोगों ने विद्रोह और हड़ताल की
  • दूसरे चरण में उन्होंने रेलवे पटरियों और स्टेशनों, सरकारी भवनों आदि को नष्ट कर दिया क्योंकि वे ब्रिटिश राज के प्रतीक थे.
  • भारत छोड़ो आंदोलन के अंतिम चरण में समानांतर सरकारों का गठन हुआ
  • महात्मा गांधी ने मुंबई के गोवालिया टैंक मैदान में भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत करते हुए अपना प्रसिद्ध करो या मरो भाषण दिया. बाद में इसे अगस्त क्रांति मैदान का नाम दिया गया
  • ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता पाने के लिए भारतीय एक साथ आए 
  • लोगों ने सरकारी भवनों पर कांग्रेस का झंडा फहराया. प्रत्येक ने व्यक्ति या तो छात्र हो या महिला ने आंदोलन में भाग लिया
  • ब्रिटिश सरकार ने भारतीयों की मांग नहीं सुनी और पूर्ण स्वतंत्रता देने से इनकार कर दिया. उन्होंने लाठीचार्ज किया और भारत के लोगों पर भारी जुर्माना लगाया. महात्मा गांधी, अब्दुल कलाम आजाद, जवाहरलाल नेहरू और सरदार वल्लभभाई पटेल जैसे प्रमुख नेताओं सहित लगभग एक लाख लोगों को गिरफ्तार किया गया और ब्रिटिश सरकार ने इस आंदोलन को बेरहमी से दबा दिया.
  • अरुणा आसफ अली ने गोवालिया टैंक मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए मुंबई में नागरिकों का नेतृत्व किया.
  • 1944 तक भारत छोड़ो आंदोलन नीचे आ गया लेकिन एक महत्वपूर्ण बात यह हुई कि भारत के लोग ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ने के लिए एक साथ आए.
  • भारत छोड़ो आंदोलन के 5 साल बाद 15 अगस्त 1947 को भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी मिली.
  • भारत छोड़ो अभियान के दौरान भारत छोड़ो और करो या मरो के नारे ज्यादातर स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा इस्तेमाल किए गए थे

ALL IMPORTANT POINTS IN ENGLISH

  • At the All-India Congress Committee session held in Bombay on the 8th of August 1942, Mohandas Karamchand Gandhi served as the chairman and launched the Quit India movement.
  • The Quit India Movement had three phases.
  • In the first phase of the Quit India Movement, people made revolts and strikes.
  • In the second phase, they destroyed the railway tracks and stations, government buildings, etc. because they were the symbols of the British Raj.
  • The last phase of the Quit India Movement saw the formation of parallel governments.
  • Mahatma Gandhi delivered his famous do-or-die speech while launching the Quit India Movement at the Gowalia Tank Maidan, Mumbai. It has been later given the name August Kranti Maidan.
  • The Indians came together to get independence from the British Colonial Rule. People hoisted the flag of congress on government buildings. Each and every individual either students or women participated in the movement.
  • The British government did not listen to the demand of the Indians and refused to grant total independence. They made the lathi charge and imposed heavy fines on the people of India. Around one lakh people including major leaders like Mahatma Gandhi, Abdul Kalam Azad, Jawaharlal Nehru, and Sardar Vallabhbhai Patel were arrested and the movement was brutally suppressed by the British government.
  • Aruna Asaf Ali led the citizens in Mumbai to hoist the National flag at Gowalia Tank Maidan.
  • The Quit India Movement came down by 1944 but one important thing happened that the people of India came together to fight against British Rule.
  • India achieved independence from British rule on August 15, 1947, after 5 years of the Quit India Movement.
  • The slogans Quit India and Do or Die were mostly used by the freedom fighters during the Quit India Campaign.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.