Agnipath yojna 2022

Agneepath Yojna 2022: अग्निपथ योजना 2022, जानें कौन कर सकता है अप्लाई? | Pros And Cons of Agneepath Yojna 2022

Agneepath Scheme Age limit, Qualification, Height Requirement In Detail in Hindi

Agneepath Scheme 2022: भारत सरकार ने 14 जून 2022 को वर्तमान प्रक्रिया से अलग चार साल के लिए सशस्त्र बलों में सैनिकों की भर्ती के लिए अग्निपथ योजना की घोषणा की है. इस अग्निपथ योजना के तहत चयनित होने वाले उम्मीदवारों को ‘अग्निवीर’ कहा जाएगा. इस साल सेना की योजना 40,000 अग्नीवीरों को शामिल करने की है, पहले बैच में लगभग 25,000 अग्नीवीरों की भर्ती दिसंबर की पहली छमाही तक और दूसरे बैच में फरवरी 2023 की पहली छमाही तक की जाएगी. अग्निपथ योजना को लेकर स्टूडेंट्स के मन कुछ डाउट है और आज इस आर्टिकल में हम आपको इन्ही प्रश्नों के उत्तर सहित अग्निपथ योजना 2022, पात्रता मानदंड, अग्निपथ योजना के फायदे और नुकसान, वेतन और चयन प्रक्रिया के बारे में में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं.

What is Agneepath Scheme? आखिर क्या है अग्निपथ योजना??

अग्निपथ भारतीय सशस्त्र बलों के लिए नई मानव संसाधन प्रबंधन योजना है जिसके तहत उम्मीदवारों का चयन 4 साल की सेवा के लिए किया जाएगा और उन्हें अग्निवीर कहा जाएगा. 4 साल की सेवा पूरी होने पर, केवल 25% अग्निवीरों को आगे के 15 वर्षों के लिए स्थायी कमीशन में शामिल किया जाएगा और बाकी को सशस्त्र बलों से मुक्त कर दिया जाएगा. अग्निपथ योजना के तहत नामांकित होने वाले उम्मीदवार सेना अधिनियम 1950 द्वारा शासित होंगे.

Agneepath Scheme 2022: What You Will Get After 4 years

अग्निपथ योजना लागू होने के बीच भारत के अलग-अलग राज्यों में काफी विरोध प्रदर्शन हो रहा है और कुछ युवा हिंसक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी की ओर से आधिकारिक बयान सामने आया है कि भारतीय सशस्त्र बलों में अनुशासनहीनता के लिए कोई जगह नहीं है. अग्निपथ में शामिल होने की इच्छा रखने वाले प्रत्येक व्यक्ति को एक शपथ और प्रतिज्ञा देनी होगी कि उन्होंने किसी भी विरोध में भाग नहीं लिया है. इन विरोध प्रदर्शनों में व्यक्तियों की भागीदारी के संबंध में एक उचित पुलिस सत्यापन होगा, इसलिए उम्मीदवारों को इस तरह के कृत्यों में भाग लेने से बचना चाहिए अन्यथा उन्हें सशस्त्र बलों में शामिल होने से रोक दिया जाएगा और वर्दी पहनने का उनका सपना केवल एक सपना बनकर रह जाएगा. उम्मीदवार नीचे इस अग्निपथ योजना के लाभों को चेक कर सकते हैं.

 अग्निपथ योजना- सेवा निधि पैकेज

अग्निपथ योजना के तहत चुने गए अग्निवीरों को 4 साल में डिस्चार्ज होने पर, ₹5.02 लाख की राशि का भुगतान, ₹10.04 लाख की राशि और अर्जित ब्याज भारत सरकार द्वारा दिया जाएगा। उन अग्निवीरों के मामले में जिन्हें बाद में नियमित संवर्ग के रूप में आईए में नामांकन के लिए चुना जाता है, उन्हें भुगतान किए जाने वाले “सेवा निधि” पैकेज में केवल उनका योगदान शामिल होगा, जिसमें उस पर अर्जित ब्याज भी शामिल होगा. अपने स्वयं के अनुरोध पर उनके सेवा मुक्त होने की अवधि के अंत से पहले सेवा से बाहर निकलने के मामले में, व्यक्ति के सेवा निधि पैकेज, जो कि तिथि के अनुसार जमा किया गया है, का भुगतान ब्याज की लागू दर के साथ किया जाएगा. ऐसे मामलों में, सेवा निधि पैकेज में कोई सरकारी अंशदान पात्र नहीं होगा. “सेवा निधि” को आयकर से छूट दी जाएगी.

अग्निवीर कौशल प्रमाण पत्र (Agniveer Skill Certificate)

सेवा की अवधि पूरी होने से पहले, अग्निवीरों को एक विस्तृत कौशल सेट प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा, जिसमें कर्मियों द्वारा उनकी सेवा की अवधि के दौरान हासिल किए गए कौशल और योग्यता के स्तर पर जानाकरी दी जाएगी.

Class 12th Certificate

10 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद नामांकित होने वाले अग्निशामकों को 12 वीं (समकक्ष) का प्रमाण पत्र प्राप्त कौशल के आधार पर उनकी 4 साल की सेवा की अवधि पूरी होने पर दिया जाएगा. विस्तृत निर्देश अलग से जारी किए जाएंगे

Pros And Cons of Agneepath Yojna 2022

भारत सरकार ने तीनों सेवाओं में सैनिकों की भर्ती के लिए एक नई योजना “अग्निपथ” की घोषणा की है. 4 साल की सेवा पूरी होने पर, केवल 25% अग्निवीरों को आगे के 15 वर्षों के लिए स्थायी कमीशन में शामिल किया जाएगा और बाकी को सशस्त्र बलों से मुक्त कर दिया जाएगा. अग्निपथ योजना के तहत नामांकित होने वाले उम्मीदवार सेना अधिनियम 1950 द्वारा शासित होंगे. भारत सरकार ने भारतीय युवाओं के लिए अग्निपथ नाम से सशस्त्र बलों में सेवा करने के लिए एक ऐतिहासिक भर्ती योजना शुरू की है और अग्निपथ योजना के तहत नामांकित युवाओं को अग्निवीर के रूप में जाना जाएगा. इस भर्ती के माध्यम से 46,000 अग्निवीर भर्ती किये जाएंगे. यह एक 4-वर्षीय ट्रेनिंग प्रोग्राम है जिसमें अग्निवीरों को सशस्त्र सेना द्वारा युद्ध के मैदान के लिए आवश्यक कौशल को सिखाया जाएगा.

Agneepath Scheme Advantages And Disadvantages (अग्निपथ योजना 2022 के फायेदे और नुकसान)

इस लेख में, हम आपको अग्निपथ योजना के फायदे और नुकसान प्रदान कर रहे हैं. यह भारत सरकार द्वारा देश के युवाओं के लिए घोषित सबसे बड़ा अवसर है. इस लॉन्च के बाद, युवाओं ने इसके खिलाफ विरोध शुरू कर दिया और देश के विभिन्न हिस्सों में 9 ट्रेनों को आग लगा दी और अन्य संपत्ति को भी नुकसान पहुँचाया. आइए अग्निपथ योजना के फायदे और नुकसान या अग्निपथ योजना के लाभ और हानि पर एक नजर डालते हैं.

Agneepath Scheme 2022: ओवरव्यू

अग्निपथ योजना के फायदे और नुकसान की तुलना करने से पहले हमें विस्तृत योजना को समझना चाहिए. नीचे दी गई तालिका आपको संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेगी.

Conducting BodyIndian Army
Name of schemeAgneepath Recruitment 2022
Launched byDepartment of Military Affairs
Number of Vacancies46000
Date of Final notificationyet to be updated
Agneepath Recruitment Online Form DateJune/July 2022
Area of ServiceIndian Army, Navy, Air Force
Training Duration4 years
Age Limit17.5-23 years
Official LinkJoinindianarmy.nic.in

Agneepath Scheme 2022 के फायेदे

  • सशस्त्र बलों की भर्ती नीति का परिवर्तनकारी सुधार.
  • न्यूनतम आयु सीमा 17.5 से अधिकतम 23 वर्ष तक के उम्मीदवारों के लिए यह एक शानदार अवसर होगा
  • ‘अग्निपथ’ योजना से पहले वर्ष में सेना, नौसेना और वायु सेना में लगभग 46,000 सैनिकों की भर्ती का रास्ता खुल गया है.
  • युवाओं के लिए देश की सेवा करने और राष्ट्र निर्माण में योगदान करने का अनूठा अवसर. सशस्त्र बलों का प्रोफाइल युवा और गतिशील होगा.
  • अग्निवीरों के लिए आकर्षक वित्तीय पैकेज. अग्निवीरों के लिए सर्वोत्तम संस्थानों में प्रशिक्षण लेने और उनके कौशल और योग्यता को बढ़ाने का अवसर.
  • नागरिक समाज में सैन्य लोकाचार के साथ अनुशासित और कुशल युवाओं की उपलब्धता.
  • समाज में लौटने वालों के लिए पर्याप्त पुन: रोजगार के अवसर और जो युवाओं के लिए रोल मॉडल के रूप में उभर सकते हैं.

Agneepath Scheme 2022 के नुकसान

  • अग्निपथ योजना उम्मीदवारों को केवल 4 साल के लिए रोजगार प्रदान करेगी.
  • केवल 25% उम्मीदवारों को प्रशिक्षण अवधि के बाद स्थायी किया जाएगा और अन्य 75% को नौकरी छोड़नी होगी.
  • अग्निपथ योजना 2022 के दौरान नियुक्त उम्मीदवार को कोई पेंशन नहीं मिलेगी.
  • सरकारी सेवा निधि योजना से 4 वर्ष बाद एकमुश्त राशि में से केवल 11 लाख ही अग्निवीरों को मिलेंगे जबकि 11 लाख में से कुछ राशि मासिक आधार पर भर्ती के वेतन से काट ली जाएगी.
  • चयनित उम्मीदवारों को केवल गैर-कमीशन रैंक जैसे सिपाही, नाइक और लांस नायक के लिए भर्ती किया जाएगा.
  • यह भर्ती सिर्फ 17.5-23 साल के उम्मीदवारों के लिए है.
  • नौकरी की कोई सुरक्षा नहीं है क्योंकि 4 साल की सेवा के बाद उम्मीदवार फिर से बेरोजगार हो जाएंगे.
  • अन्य सरकारी नौकरियों की तरह उम्मीदवार को कोई अतिरिक्त या बुनियादी लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा.

Advantages & Disadvantages of the Agneepath Scheme: FAQ

Q. अग्निपथ योजना 2022 क्या है?
Ans. 
अग्निपथ योजना अधिकारी के पद से नीचे के व्यक्तियों के लिए एक भर्ती प्रक्रिया है, जो फिटर, युवा सैनिकों को अग्रिम पंक्ति में तैनात करती है, अंततः सशस्त्र बलों के युवा प्रोफाइल को बढ़ाती है.

Q. अग्निपथ योजना 2022 के तहत उल्लिखित सेवा अवधि क्या है?
Ans. अग्निपथ योजना 2022 में, सेवा कार्यकाल 4 वर्ष का है.


Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.