Current Affairs in Hindi 2021

12th Aug 2021 Current Affairs Updates in Hindi

राष्ट्रीय

पीएम मोदी ने ताड़ के तेल पहल की घोषणा की

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने ताड़ के तेल (palm oil) सहित खाना पकाने के तेल में भारत (India) को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 11,000 करोड़ रुपये के राष्ट्रीय खाद्य तेल मिशन-ऑयल पाम (National Edible Oil Mission-Oil Palm – NMEO-OP) की घोषणा की है। 

सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि मिशन के तहत किसानों को गुणवत्तापूर्ण बीज (quality seeds) से लेकर तकनीक तक सभी सुविधाएं मिलें। जबकि भारत (India) चावल (rice), गेहूं (wheat) और चीनी (sugar) में आत्मनिर्भर हो गया है, यह पर्याप्त नहीं था क्योंकि देश आयातित खाद्य तेलों (imported edible oils) पर अत्यधिक निर्भर है। 

आयात कम करने के उद्देश्य से पिछले कुछ वर्षों से भारत (India) में तिलहन (oilseeds) और पाम तेल (palm oil) उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र पहले से ही तिलहन (Oilseeds) और तेल पाम (Oil Palm) पर एक राष्ट्रीय मिशन (National Mission) चला रहा है।

महाराष्ट्र सरकार ने की आईटी क्षेत्र के लिए राजीव गांधी पुरस्कार की घोषणा 

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra government) ने सूचना और प्रौद्योगिकी (Information and Technology – IT) क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी के नाम पर एक नए पुरस्कार की घोषणा की है।

महाराष्ट्र (Maharashtra) में राजीव गांधी पुरस्कार (Rajiv Gandhi Award) सूचना प्रौद्योगिकी (information technology) के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले संस्थानों को दिया जाएगा।

महाराष्ट्र (Maharashtra) के सूचना प्रौद्योगिकी और गृह राज्य मंत्री सतेज पाटिल (Satej Patil) की अध्यक्षता में हुई बैठक में पूर्व पीएम राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) के बाद राज्य में एक पुरस्कार शुरू करने का निर्णय लिया गया। 

हाल ही में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने घोषणा की थी कि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार (Rajiv Gandhi Khel Ratna award) को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार (Major Dhyan Chand Khel Ratna Award) कहा जाएगा।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • महाराष्ट्र राज्यपाल: भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari);
  • महाराष्ट्र राजधानी: मुंबई (Mumbai);
  • महाराष्ट्र सीएम: उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray)।

अंतर्राष्ट्रीय

ईरान के पहले उपराष्ट्रपति के रूप में मोहम्मद मोखबेर नामित 

ईरान के नए राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (Ebrahim Raisi) ने संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) द्वारा स्वीकृत एक शक्तिशाली राज्य के स्वामित्व वाली नींव के अध्यक्ष को अपने पहले उपाध्यक्ष के रूप में नामित किया। 

मोहम्मद मोखबेर (Mohammad Mokhber) ने कई वर्षों तक सेताद या इमाम खोमैनी (Setad or Imam Khomeini’s) के आदेश के निष्पादन (Execution) के रूप में जानी जाने वाली नींव का नेतृत्व किया है।

मोखबेर (Mokhber) को 2007 में सर्वोच्च नेता आयतोल्लाह अली ख़ामेनेई (Ayatollah Ali Khamenei) द्वारा इस पद पर नियुक्त किया गया था। सेताद (Setad) की स्थापना मूल रूप से 1980 के दशक के अंत में 1979 की इस्लामिक क्रांति (Islamic Revolution) के बाद जब्त की गई संपत्तियों के प्रबंधन के लिए की गई थी।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • ईरान की राजधानी: तेहरान (Tehran);
  • ईरान मुद्रा: ईरानी तोमान (toman)।

नियुक्तियाँ

बैंकिंग धोखाधड़ी जागरूकता अभियान के लिए आरबीआई ने नीरज चोपड़ा को किया नियुक्त

डिजिटल बैंकिंग धोखाधड़ी (digital banking frauds) के खिलाफ लोगों को आगाह करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India – RBI) ने एक जन जागरूकता अभियान (public awareness campaign) शुरू किया है। नए अभियान के लिए आरबीआई (RBI) ने ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता (Olympic Gold medalist) नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) को अनुबंधित किया है। 

केंद्रीय बैंक (central bank) ने लोगों से थोड़ा सतर्क रहने को कहा है क्योंकि ऐसा करने से उन्हें काफी परेशानियों से बचाया जा सकता है। थोड़ी सी सावधानी बहुत सारी मुसीबतों को दूर कर देती है। अभियान में चोपड़ा (Chopra) ने उपयोगकर्ताओं से ओटीपी (OTP), सीवीवी (CVV) नंबर और एटीएम पिन (ATM PIN) जैसे विवरण किसी के सामने प्रकट नहीं करने का आग्रह किया है। 

उपयोगकर्ताओं को अपने ऑनलाइन बैंकिंग पासवर्ड (online banking passwords) और पिन नंबर (PIN numbers) को बार-बार बदलते रहना चाहिए और एटीएम कार्ड (ATM card), क्रेडिट कार्ड (credit card), डेबिट कार्ड और/या प्रीपेड कार्ड (debit card and/or prepaid card) खो जाने या चोरी होने पर तुरंत ब्लॉक कर देना चाहिए।

बैंकिंग

RBI ने स्वयं सहायता समूहों के लिए बढ़ाया संपार्श्विक-मुक्त ऋण 

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने डीएवाई-एनआरएलएम (दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन –  Deendayal Antyodaya Yojana – National Rural Livelihoods Mission) के तहत स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को संपार्श्विक-मुक्त ऋण की सीमा 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दी है।

डीएवाई-एनआरएलएम गरीबों, विशेषकर महिलाओं के लिए मजबूत संस्थानों के निर्माण के माध्यम से गरीबी में कमी को बढ़ावा देने और इन संस्थानों को वित्तीय सेवाओं और आजीविका की एक श्रृंखला तक पहुंचने में सक्षम बनाने के लिए भारत सरकार का प्रमुख कार्यक्रम है।

ग्रामीण विकास मंत्रालय (MoRD), भारत सरकार ने स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना (Swarnajayanti Gram Swarojgar Yojana – SGSY) का पुनर्गठन करके राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (National Rural Livelihood Mission – NRLM) की शुरुआत की। 29 मार्च 2016 को एनआरएलएम का नाम बदलकर डीएवाई-एनआरएलएम (दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन) कर दिया गया।

1 अक्टूबर से एटीएम में कैश खत्म होने पर बैंकों को दंडित करेगा आरबीआई

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India – RBI) ने ‘एटीएम की गैर-पुनःपूर्ति के लिए दंड की योजना (Scheme of Penalty for non-replenishment of ATMs’) शुरू करने की घोषणा की है, जिसके अनुसार वह उन एटीएम/डबल्यूएलए (ATMs/WLAs) पर मौद्रिक  दंड (monetary penalties) लगाएगा जो नकदी (cash) से बाहर हो जाते हैं। 

यह योजना 01 अक्टूबर, 2021 से प्रभावी होगी। इसलिए, बैंकों/डबल्यूएलएओ (banks/ WLAO) को एटीएम में नकदी की उपलब्धता की निगरानी (monitoring) के लिए एक मजबूत प्रणाली स्थापित करनी चाहिए और कैश-आउट (cash-outs) से बचने के लिए समय पर पुनःपूर्ति (replenishment) सुनिश्चित करनी चाहिए।

महीने में दस घंटे से अधिक के किसी भी एटीएम से कैश-आउट (Cash-out) करने पर प्रति एटीएम रु 10,000/- का एक समान जुर्माना लगेगा। व्हाइट लेबल एटीएम (White Label ATM) के मामले में, उस बैंक से जुर्माना लगाया जाएगा जो उस विशेष डब्ल्यूएलए (WLA) की नकदी आवश्यकता को पूरा कर रहा है। बैंक, अपने विवेक से, WLA ऑपरेटर से दंड की वसूली कर सकता है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • आरबीआई के 25वें गवर्नर: शक्तिकांत दास (Shaktikant Das) ; मुख्यालय: मुंबई (Mumbai); स्थापित: 1 अप्रैल 1935, कोलकाता (Kolkata)।

व्यवसाय

SIDBI ने किया “डिजिटल प्रयास” उधार मंच का अनावरण

भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (Small Industries Development Bank of India – SIDBI) ने कम आय वाले समूहों के उद्यमियों (entrepreneurs) को ऋण की सुविधा के लिए एक ऐप-आधारित डिजिटल-ऋण मंच (digital-lending platform) ‘डिजिटल प्रयास (Digital Prayaas)’ का अनावरण किया है। 

इसका उद्देश्य दिन के अंत तक ऋण स्वीकृत करना है। यह मंच सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (Micro, Small and Medium Enterprises – MSMEs) के प्रचार (promotion), वित्तपोषण (financing) और विकास (development) में लगा हुआ है।

शहरी क्षेत्र (urban area) के लोगों को पूरा करने के लिए, सिडबी (SIDBI) ने ई-बाइक (e-bikes) और ई-वैन (e-vans) की खरीद के लिए अपने वितरण भागीदारों को ऋण प्रदान करने के लिए बिगबास्केट (BigBasket) के साथ करार किया है। सिडबी-बिगबास्केट पहल डिजिटल फुटप्रिंट (digital footprints) तैयार करेगी जो उधारकर्ता के परिवार के सदस्यों (borrower’s family members) को अपने स्वयं के सूक्ष्म उद्यमों (micro-enterprises) के लिए ऋण (loans) की सुविधा प्रदान करेगी।

सिडबी (SIDBI) को अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए और अधिक भागीदार संस्थानों के साथ ऐसी ही व्यवस्था करनी चाहिए।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • सिडबी के सीएमडी: एस रमन (S Ramann);
  • सिडबी की स्थापना: 2 अप्रैल 1990;
  • सिडबी मुख्यालय: लखनऊ (Lucknow), उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh).

आर्थिक

वित्त मंत्रालय: 5.82 करोड़ से अधिक जन धन खाते निष्क्रिय

वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने राज्यसभा (Rajya Sabha) को सूचित किया है कि 5.82 करोड़ से अधिक जन धन (PMJDY) खाते निष्क्रिय हैं। यह कुल खातों की संख्या का 14 फीसदी है। इसका मतलब है कि 10 जन धन (Jan Dhan) खातों में से कम से कम एक खाता निष्क्रिय है। 

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार, “बचत (savings), साथ ही चालू खाते (current account) को निष्क्रिय/निष्क्रिय माना जाना चाहिए यदि खाते में दो साल से अधिक की अवधि के लिए कोई लेनदेन नहीं है। 

पीएमजेडीवाई (PMJDY) की वेबसाइट के अनुसार, जन धन (Jan Dhan) खातों की कुल संख्या 42.83 करोड़ है और शेष लगभग रु 1.43 लाख करोड़ है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • भारत के वित्त मंत्री: निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman)।

समझौता ज्ञापन 

यूनिसेफ इंडिया और फेसबुक ने बच्चों के लिए एक सुरक्षित ऑनलाइन दुनिया बनाने में सहयोग किया

यूनिसेफ इंडिया (UNICEF India) और फेसबुक (Facebook) ने ऑनलाइन सुरक्षा (online safety) पर विशेष ध्यान देने के साथ बच्चों के खिलाफ हिंसा (violence against children) को समाप्त करने के लिए एक साल की संयुक्त पहल शुरू की है। साझेदारी ऑनलाइन (online) और ऑफलाइन (offline) बच्चों के लिए एक सुरक्षित वातावरण (safe environment) बनाने का प्रयास करती है। 

इसका उद्देश्य बच्चों के लचीलेपन (children’s resilience) और डिजिटल दुनिया (digital world ) तक सुरक्षित रूप से पहुंचने की क्षमता में सुधार करना, बच्चों के खिलाफ हिंसा (violence against children) और बच्चों, परिवारों और समुदायों पर इसके प्रभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाना और हिंसा को बेहतर ढंग से रोकने और प्रतिक्रिया देने के लिए समुदायों और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं (frontline workers) के कौशल को बढ़ाना है।

साझेदारी में एक राष्ट्रव्यापी सोशल मीडिया अभियान (nationwide social media campaign) और ऑनलाइन सुरक्षा (online safety), डिजिटल साक्षरता (digital literacy) और मनोसामाजिक समर्थन (psychosocial support) पर 100,000 स्कूली बच्चों के लिए क्षमता निर्माण शामिल है। बच्चों के खिलाफ हिंसा को समाप्त करने के लिए जाने-माने अभिनेता और यूनिसेफ इंडिया (UNICEF India) के सेलिब्रिटी एडवोकेट आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने वर्चुअल इवेंट (virtual event) के दौरान अपना मुख्य संदेश दिया।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • यूनिसेफ मुख्यालय: न्यूयॉर्क (New York), संयुक्त राज्य अमेरिका (United States of America);
  • यूनिसेफ के कार्यकारी निदेशक: हेनरिटा एच॰ फोरे (Henrietta H. Fore);
  • यूनिसेफ की स्थापना: 11 दिसंबर 1946।
  • फेसबुक की स्थापना: फरवरी 2004;
  • फेसबुक सीईओ: मार्क ज़ुकेरबर्ग (Mark Zuckerberg);
  • फेसबुक मुख्यालय: कैलिफोर्निया (California), संयुक्त राज्य अमेरिका (United States of America)।

पुरस्कार 

वन धन योजना के तहत नागालैंड ने जीते 7 राष्ट्रीय पुरस्कार

ट्राइबल कोऑपरेटिव मार्केटिंग डेवलपमेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (Tribal Cooperative Marketing Development Federation of India Limited – TRIFED) के 34 वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में, पहले वन धन वार्षिक पुरस्कार (Van Dhan Annual Awards) 2020-21 पर नागालैंड (Nagaland) को सात राष्ट्रीय पुरस्कारों (national awards) से सम्मानित किया गया है। 

जूम वेबिनार (Zoom webinar) के माध्यम से केंद्रीय आदिवासी मंत्री (Union tribal minister) अर्जुन मुंडा (Arjun Munda) द्वारा पुरस्कार प्रदान किए गए।

इस बीच, राज्य को सात राष्ट्रीय पुरस्कार मिले हैं, जैसे – ‘सर्वश्रेष्ठ सर्वेक्षण राज्य (Best Survey State)’, ‘सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण (Best Training)’, और ‘सबसे अधिक संख्या में VDVKC की स्थापना’ में प्रथम स्थान।

इसने ‘सर्वश्रेष्ठ बिक्री उत्पन्न (Best Sales Generated)’, और ‘सर्वश्रेष्ठ नवाचार और रचनात्मकता (Best Innovation & Creativity)’ के लिए तीसरा स्थान प्राप्त किया है।

राज्य को वस्तुओं के लिए अभिनव और रचनात्मक उत्पाद विचारों (Innovative & Creative Product Ideas) के लिए पुरस्कार भी मिले हैं जैसे – आंवला वाइन (Gooseberry Wine) (आपूर्तिकर्ता: टोका मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड-Toka Multipurpose Society Ltd.); मशरूम की खेती (Mushroom Cultivation) (आपूर्तिकर्ता: NBHM)।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • नागालैंड के मुख्यमंत्री: नेफियू रियो (Neiphiu Rio); नागालैंड के राज्यपाल: आर एन रवि (R. N. Ravi)।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी 

दक्षिण अफ्रीका ने कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रणाली को पेटेंट प्रदान किया

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) DABUS नामक एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (artificial intelligence – AI) प्रणाली को “फ्रैक्टल ज्योमेट्री पर आधारित खाद्य कंटेनर (food container based on fractal geometry)” से संबंधित एक पेटेंट (patent) प्रदान करता है। DABUS (जिसका अर्थ है “एकीकृत भावना के स्वायत्त बूटस्ट्रैपिंग के लिए उपकरण”- device for the autonomous bootstrapping of unified sentience) एआई (AI) और प्रोग्रामिंग के क्षेत्र में अग्रणी स्टीफन थेलर (Stephen Thaler) द्वारा बनाई गई एक एआई (AI) प्रणाली है। प्रणाली मानव मंथन (human brainstorming) का अनुकरण करती है और नए आविष्कार करती है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • दक्षिण अफ्रीका की राजधानियाँ: केप टाउन (Cape Town), प्रिटोरिया (Pretoria), ब्लॉमफ़ोन्टेन (Bloemfontein);
  • दक्षिण अफ्रीका मुद्रा: दक्षिण अफ्रीकी रेंड (South African rand);
  • दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति: सिरिल रामाफोसा (Cyril Ramaphosa)।

आईटी मंत्रालय देश में पहले इंटरनेट गवर्नेंस फोरम की मेजबानी करेगा

भारत (India) इस साल 20 अक्टूबर से देश में पहले इंटरनेट गवर्नेंस फोरम (Internet Governance Forum) की मेजबानी करेगा। इस वर्ष की बैठक का विषय डिजिटल इंडिया के लिए समावेशी इंटरनेट (Inclusive Internet for Digital India) है।

 इस घोषणा के साथ, संयुक्त राष्ट्र-आधारित फोरम (United Nations-based forum) का भारतीय अध्याय यानी इंटरनेट गवर्नेंस फोरम (Internet Governance Forum) शुरू हो गया है। यह इंटरनेट से संबंधित सार्वजनिक नीति के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए विभिन्न समूहों के प्रतिनिधियों को एक साथ लाने के लिए एक इंटरनेट शासन नीति (Internet Governance policy) चर्चा मंच है।

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Ministry of Electronics & Information Technology – MeitY) और भारत इंटरनेट गवर्नेंस फोरम 2021 (Internet Governance Forum – IGF) के समन्वय समिति के अध्यक्ष, नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (National Internet Exchange of India – NIXI) ने भारत इंटरनेट गवर्नेंस फोरम (IIGF) -2021 के शुभारंभ की घोषणा की।

रैंक और रिपोर्ट 

“नए वैश्विक युवा विकास सूचकांक” में भारत 122वें स्थान पर

लंदन (London) में राष्ट्रमंडल सचिवालय (Commonwealth Secretariat) द्वारा जारी 181 देशों में युवाओं की स्थिति को मापने वाले नए वैश्विक युवा विकास सूचकांक (Global Youth Development Index) 2020 में भारत (India) 122वें स्थान पर है। 

सबसे ऊपर सिंगापुर (Singapore) है उसके बाद स्लोवेनिया (Slovenia), नॉर्वे (Norway), माल्टा (Malta) और डेनमार्क (Denmark) है। चाड (Chad), मध्य अफ्रीकी गणराज्य (Central African Republic), दक्षिण सूडान (South Sudan), अफगानिस्तान (Afghanistan) और नाइजर (Niger) क्रमशः अंतिम स्थान पर रहे।

युवा विकास की त्रैवार्षिक रैंकिंग (triennial rankings) ने भारत (India) को 2010 और 2018 के बीच सूचकांक में अफगानिस्तान (Afghanistan) और रूस (Russia) के साथ शीर्ष पांच में शामिल किया, शिक्षा (education) और रोजगार (employment) जैसे क्षेत्रों में उनके स्कोर में औसतन 15.74 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

निधन 

मलयालम अभिनेत्री सरन्या ससी का निधन

लोकप्रिय मलयालम फिल्म (Malayalam film) और टेलीविजन अभिनेत्री (television actress), सरन्या ससी (Saranya Sasi) का कोविड -19 जटिलताओं के कारण निधन हो गया। उन्होंने लगभग एक दशक तक कैंसर (cancer) से भी लड़ाई लड़ी थी, इस बीमारी से लड़ने में उल्लेखनीय धैर्य (remarkable grit) और दृढ़ संकल्प (determination) दिखाने के लिए प्रशंसा अर्जित की। 2012 में उन्हें ब्रेन ट्यूमर (brain tumour) होने का पता चला था।

अभिनेत्री के काम में छोटा मुंबई (Chhota Mumbai), थलपपवु (Thalappavu), बॉम्बे मार्च (Bombay March)12 जैसी फिल्में और कूटुकरी (Kootukari), अवकाशिकल (Avakashikal), हरिचंदनम (Harichandanam), मालाखमार (Malakhamar) और रहस्यम (Rahasyam) जैसे टीवी धारावाहिक शामिल हैं।

प्रख्यात आयुर्वेदाचार्य बालाजी तांबे का निधन

एक प्रसिद्ध आध्यात्मिक नेता (spiritual leader), जो एक आयुर्वेद चिकित्सक (Ayurveda doctor) और योग के प्रस्तावक (proponent of Yoga) भी थे, डॉ बालाजी तांबे (Dr Balaji Tambe) का निधन हो गया।

लोनावाला (Lonavala) के पास एक समग्र चिकित्सा केंद्र ‘आत्मसंतुलना गांव (Atmasantulana Village)’ के संस्थापक, डॉ तांबे (Dr Tambe) ने आध्यात्मिकता (spirituality), योग (Yoga) और आयुर्वेद (Ayurveda) पर कई किताबें लिखी थीं। उन्होंने आयुर्वेद और योग को बढ़ावा देने और लोकप्रिय बनाने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.