Current Affairs in Hindi 2021

08 Aug 2021 Current Affairs in Hindi

राष्ट्रीय

बिजली मंत्री ने शुरू किया नियामक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए ई-प्रमाणन कार्यक्रम

बिजली मंत्री आर के सिंह (R K Singh) ने नियामक प्रशिक्षण (regulatory training) प्रदान करने के लिए एक ई-प्रमाणन कार्यक्रम (e-certification programme), ‘बिजली क्षेत्र के लिए सुधार और नियामक ज्ञान आधार (reform and regulatory knowledge base for power sector)’ शुरू किया है।

 केंद्रीय बिजली और नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री (The Union Minister for Power and New & Renewable Energy) आर के सिंह (R K Singh) ने वर्चुअल मोड (virtual mode) के माध्यम से विविध पृष्ठभूमि के पेशेवर को नियामक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए एक ई-प्रमाणन कार्यक्रम (e-certification programme) ‘बिजली क्षेत्र के लिए सुधार और नियामक ज्ञान आधार (reform and regulatory knowledge base for power sector)’ लॉन्च किया।

आर के सिंह (R K Singh) ने एक नियामक डेटा डैशबोर्ड (Regulatory Data Dashboard) भी लॉन्च किया, जो आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) द्वारा विकसित टैरिफ और बिजली डिस्कॉम (tariff and power discoms) (वितरण कंपनियों) के प्रदर्शन के राज्य-वार विवरण वाले डेटा का एक ई-संग्रह है। डैशबोर्ड (Dashboard) समय के साथ और बिजली क्षेत्र की उपयोगिताओं में क्षेत्र के प्रदर्शन को बेंचमार्क करने में सहायता करेगा।

उत्तराखंड के लाभांशु शर्मा ने जीता केसरी कुश्ती दंगल

भारतीय पहलवान (Indian Wrestler) लाभांशु शर्मा (Labhanshu Sharma) ने तमिलनाडु (Tamil Nadu) में आयोजित भारत केसरी कुश्ती दंगल (Bharat Kesari Wrestling Dangal) 2021 जीता। उत्तराखंड (Uttarakhand) के गठन के 20 साल बाद, लाभांशु (Labhanshu) ने सूखे को तोड़ दिया और राज्य के लिए भारत केसरी (Bharat Kesari) का खिताब जीता।

राज्य स्तर (state level) पर 15 स्वर्ण पदक और राष्ट्रीय स्तर (national level) पर 10 पदक और अंतर्राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिताओं (International Wrestling competitions) में 2 स्वर्ण पदक और 1 रजत पदक के साथ; लाभांशु (Labhanshu) पहले से ही राष्ट्र को गौरवान्वित करने के लिए तैयार है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • उत्तराखंड की राज्यपाल: बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya);
  • उत्तराखंड के मुख्यमंत्री: पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami)।

भारत का पहला हार्ट फैल्यर बायोबैंक केरल के SCTIMST में शुरू

देश में पहला हार्ट फैल्यर बायोबैंक (Heart Failure Biobank) केरल के श्री चित्रा तिरुनल इंस्टीट्यूट फॉर मेडिकल साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी (Sree Chitra Tirunal Institute for Medical Sciences and Technology – SCTIMST) में नेशनल सेंटर फॉर एडवांस्ड रिसर्च एंड एक्सीलेंस इन एचएफ (Centre for Advanced Research and Excellence in HF – CARE-HF) में आया है। 

बायोबैंक (Biobank) हृदय की विफलता के रोगियों (heart-failure patients) में स्वास्थ्य परिणामों के आनुवंशिक (genetic), चयापचय (metabolomics) और प्रोटिओमिक्स मार्करों (proteomic markers) का अध्ययन करने के लिए खुला है।

बायोबैंक (Biobanks) उच्च गुणवत्ता वाले जैविक मानव (high-quality biological human) नमूनों के संग्रह का एक महत्वपूर्ण संसाधन है जिसका उपयोग आणविक मार्गों (molecular pathways) को समझने और दिल की विफलता (heart failure) के निदान (diagnosis), निदान और उपचार (prognosis and treatment) में सुधार के लिए किया जा सकता है।

बायोस्पेसिमन्स (biospecimens) में ओपन-हार्ट सर्जरी के दौरान प्राप्त रक्त (blood), सीरम (serum) और ऊतक के नमूने (tissue samples) और हृदय-विफलता रोगियों से एकत्र किए गए परिधीय रक्त मोनोन्यूक्लियर सेल (peripheral blood mononuclear cells – PBMCs) और जीनोमिक डीएनए (genomic DNA) शामिल हैं।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • केरल के मुख्यमंत्री: पिनाराई विजयन (Pinarayi Vijayan);
  • केरल के राज्यपाल: आरिफ़ मोहम्मद ख़ान (Arif Mohammad Khan)।

लद्दाख ने लॉन्च किया ‘पानी माह’

ग्रामीणों को स्वच्छ जल के महत्व के बारे में जानकारी देने के लिए लद्दाख (Ladakh) में ‘पानी माह (Pani Maah)’ या जल माह (water month) शुरू किया गया है। 

लद्दाख सरकार (Ladakh government) ने ‘हर घर जल (Har Ghar Jal)’ का दर्जा हासिल करने वाले प्रत्येक जिले के पहले ब्लॉक के लिए 25 लाख रुपये के इनाम की भी घोषणा की है।

‘पानी माह (Pani Maah)’ अभियान तीन-आयामी दृष्टिकोण अपनाएगा – पानी की गुणवत्ता परीक्षण (water quality testing), योजना और पानी की आपूर्ति की रणनीति (planning and strategizing water supply), और गांवों में पानी सभा (Pani Sabha) के निर्बाध कामकाज (seamless functioning) पर ध्यान केंद्रित करना।

लद्दाख (Ladakh) में केवल 11.75 प्रतिशत ग्रामीण परिवारों के पास नल के पानी के कनेक्शन हैं। पानी माह अभियान से केंद्र शासित (union territory) प्रदेश में जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) के कार्यान्वयन में तेजी आने की उम्मीद है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • लद्दाख के उपराज्यपाल: राधा कृष्ण माथुर (Radha Krishna Mathur)।

नियुतियाँ 

जॉन अब्राहम बनें MotoGP ब्रांड एंबेसडर

यूरोस्पोर्ट इंडिया (Eurosport India) ने बॉलीवुड सुपरस्टार और मोटोजीपी उत्साही (Bollywood superstar and MotoGP enthusiast), जॉन अब्राहम (John Abraham) को उनकी प्रमुख मोटरस्पोर्ट संपत्ति (Motorsport property), मोटोजीपी™ (MotoGP™) के लिए भारत का राजदूत नियुक्त किया है।

जॉन (John) यूरोस्पोर्ट (Eurosport’s ) के अभियान – “मोटोजीपी, रेस लगाते है (MotoGP, Race Lagate Hai)” के माध्यम से भारत में व्यापक दर्शकों के आधार पर मोटोजीपी (MotoGP) का प्रचार करते नजर आएंगे।

रक्षा

स्वदेशी डिजाइन आईएनएस विक्रांत पहले समुद्री परीक्षण के लिए बंदरगाह से निकला

भारत का पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत (aircraft carrier), विक्रांत (Vikrant) अपना पहला समुद्री परीक्षण शुरू करने के लिए रवाना हुआ। आईएनएस विक्रांत (INS Vikrant) को भारतीय नौसेना के नौसेना डिजाइन निदेशालय (Directorate of Naval Design – DND) द्वारा डिजाइन किया गया था और कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड (Cochin Shipyard Limited -CSL) में बनाया गया था। 

यह उन्नत युद्धपोत (advanced warship) जमीन से ऊपर तक एक विमानवाहक पोत (aircraft carrier) बनाने के लिए दो संस्थाओं द्वारा पहला प्रयास है। 

आईएनएस विक्रांत (INS Vikrant) में 75 प्रतिशत स्वदेशी सामग्री (indigenous content) है और इसे पूर्वी नौसेना कमान (Eastern Naval Command) में शामिल किया जाएगा। इसे अगस्त 2022 तक भारतीय नौसेना (Indian Navy) में शामिल किया जाएगा।

बैंकिंग

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक ने खोला ‘हेल्थ एंड वेलनेस सेविंग्स अकाउंट’

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक (Suryoday Small Finance Bank – SSFB) ने कोविड-19 महामारी के बीच ग्राहकों को अपनी संपत्ति बढ़ाने और अपने परिवार के स्वास्थ्य की देखभाल करने में मदद करने के लिए एक ‘सूर्योदय स्वास्थ्य और कल्याण बचत खाता (Suryoday Health and Wellness Savings Account)’ लॉन्च किया है।

यह खाता आकर्षक ब्याज दर (attractive interest rate) प्रदान करता है और चार सदस्यों के परिवार के लिए तीन प्रमुख लाभों के साथ आता है – रु 25 लाख का टॉप-अप स्वास्थ्य बीमा (top-up health insurance), वार्षिक स्वास्थ्य देखभाल पैकेज (annual healthcare package) और ऑन-कॉल आपातकालीन एम्बुलेंस चिकित्सा देखभाल सेवाएं (on-call emergency ambulance medical care services)|

रु 5 लाख की कटौती योग्य राशि के साथ रु 25 लाख की मानार्थ टॉप-अप स्वास्थ्य बीमा योजना (Complimentary top-up health insurance plan)।

टॉप-अप स्वास्थ्य बीमा योजना (top-up health insurance plan) अस्पताल में भर्ती (hospitalisation)/चिकित्सा आपात स्थिति (medical emergencies) के लिए स्वयं और परिवार (स्वयं, पति या पत्नी और अधिकतम 2 बच्चों) को कवर करती है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी और सीईओ: भास्कर बाबू रामचंद्रन (Baskar Babu Ramachandran);

आर्थिक

SBI जनरल ने सामान्य बीमा उत्पादों की पेशकश के लिए SahiPay के साथ की साझेदारी

भारत की प्रमुख सामान्य बीमा कंपनियों में से एक, एसबीआई जनरल इंश्योरेंस (SBI General Insurance) ने ग्रामीण बाजारों में बीमा पैठ (insurance penetration) बढ़ाने के लिए मणिपाल बिजनेस सॉल्यूशंस (Manipal Business Solutions) के साथ गठजोड़ की घोषणा की। 

मणिपाल बिजनेस सॉल्यूशंस (Manipal Business Solutions) का सबसे तेजी से बढ़ता तकनीक-सक्षम वित्तीय समावेशन मंच (tech-enabled financial inclusion platform) SahiPay अर्ध-शहरी (semi-urban) और ग्रामीण भारत (rural India) में ग्राहकों को डिजिटल और वित्तीय (digital and financial) सेवाएं प्रदान करता है।

यह साझेदारी ग्रामीण ग्राहकों (rural customers) के लिए एसबीआई जनरल (SBI General’s) के गैर-जीवन उत्पाद प्रस्ताव और मणिपाल बिजनेस सॉल्यूशंस (Manipal Business Solutions) के साथ-साथ दोनों भागीदारों द्वारा ग्रामीण खंड की सही समझ के साथ एक आदर्श मिश्रण लाएगी।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस मुख्यालय: मुंबई (Mumbai);
  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस की स्थापना: 2009;
  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस सीईओ: प्रकाश चंद्र कांडपाल (Prakash Chandra Kandpal)।

पुरस्कार

भूटान में मंगदेछु जलविद्युत परियोजना को ब्रुनेल मेडल सम्मान

भूटान की भारत-सहायता प्राप्त मंगदेछु जलविद्युत परियोजना (Mangdechhu Hydroelectric Project) को लंदन (London) स्थित सिविल इंजीनियर्स संस्थान (Institution of Civil Engineers – ICE) द्वारा सम्मानित ब्रुनेल मेडल (Brunel Medal) से सम्मानित किया गया।

यह पुरस्कार उद्योग के भीतर सिविल इंजीनियरिंग (civil engineering) में उत्कृष्टता के प्रतीक के रूप में दिया गया था और भूटान (Bhutan) को भारतीय दूत रुचिरा कंबोज (Ruchira Kamboj) ने मंगदेछु जलविद्युत परियोजना प्राधिकरण (Mangdechhu Hydroelectric Project Authority) के अध्यक्ष ल्योंपो लोकनाथ शर्मा (Lyonpo Loknath Sharma) को सौंप दिया था।

मंगदेछु परियोजना (Mangdechhu project) को सम्मानित किए जाने के कारणों में से एक इसकी सामाजिक और पर्यावरणीय (social and environmental) साख के कारण था।

इस परियोजना से हर साल 2.4 मिलियन टन ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन (greenhouse gas emissions) में कमी आएगी। अतीत में भूटान (Bhutan) और भारत (India) ने सामूहिक रूप से भूटान की जलविद्युत ऊर्जा क्षमता (hydropower energy capacity) को बढ़ाकर 12000 मेगावाट करने का संकल्प लिया है।

ब्रुनेल मेडल (Brunel Medal) ऐतिहासिक रूप से दुनिया भर की प्रमुख परियोजनाओं और संगठनों को दिया जाता है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण:

  • भूटान राजधानी: थिम्फू (Thimphu);
  • भूटान के प्रधान मंत्री: लोतेय त्शेरिंग (Lotay Tshering);
  • भूटान मुद्रा: भूटानी नगुल्टम (Bhutanese ngultrum)।

शिखर सम्मलेन और वार्ता 

DRDO द्वारा रेंज प्रौद्योगिकी पर दूसरा IEEE अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन

दूसरा इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स (Institute of Electrical and Electronics Engineers – IEEE) इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन रेंज टेक्नोलॉजी (International Conference on Range Technology – ICORT-2021) वस्तुतः आयोजित किया जा रहा है।

सम्मेलन का आयोजन रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (Defence Research and Development Organisation – DRDO) की प्रयोगशाला, एकीकृत परीक्षण रेंज (Integrated Test Range- ITR) चांदीपुर (Chandipur) द्वारा किया गया है।

इसका उद्घाटन रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्यक्ष (Department of Defence R&D and Chairman DRDO) डॉ जी सतीश रेड्डी (Dr G Satheesh Reddy) ने किया। यह आयोजन दुनिया भर के वक्ताओं की मेजबानी करेगा, जो टेस्ट और रक्षा प्रणालियों के मूल्यांकन से संबंधित कई विषयों में अपनी तकनीकी उपलब्धियों को प्रस्तुत करेंगे।

सम्मेलन सभी रेंज प्रौद्योगिकी (Range Technology) उत्साही लोगों के लिए एक दूसरे के साथ बातचीत करने और प्रासंगिक क्षेत्रों (relevant fields) में हाल के विकास के साथ अद्यतन रहने के लिए एक बहुत ही प्रभावी मंच होगा।

खेल

भाला फेंक में नीरज चोपड़ा ने जीता ओलंपिक स्वर्ण पदक

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भाला फेंक स्पर्धा (javelin throw event) में भारत (India) के लिए स्वर्ण पदक जीता है। नीरज (Neeraj) ने अपने पहले प्रयास में 87.03 मीटर के थ्रो (throw) के साथ प्रतियोगिता को समाप्त कर दिया। 

अपने दूसरे में उन्होंने इसे 87.58 मीटर तक सुधारा और यह गोल्डन थ्रो (golden throw) निकला। 86.67 मीटर फेंकने वाले चेक गणराज्य (Czech Republic) के विटेज़लव वेस्ले (Viteszalav Veslay) को छोड़कर, विश्व चैंपियन जोहानिस वेटर (Johannas Vetter) सहित उनका कोई भी प्रतिद्वंद्वी रास्ते से नहीं गिरा।

यह टोक्यो 2020 में भारत (India) का 7वां पदक है, जो खेलों के एकल संस्करण में भारत (India) के लिए अब तक का सर्वश्रेष्ठ पदक है। निशानेबाजी में अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) के बाद नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) का स्वर्ण ओलंपिक में भारत (India) का दूसरा व्यक्तिगत स्वर्ण पदक है।

टोक्यो ओलंपिक 2020: बजरंग पुनिया ने जीता ओलंपिक कुश्ती कांस्य पदक

भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किग्रा वर्ग में कजाकिस्तान (Kazakhstan) के दौलत नियाज़बेकोव (Daulet Niyazbekov) पर 8-0 से जीत के बाद ओलंपिक कुश्ती कांस्य पदक (Olympic wrestling bronze medal) मैच जीता है।

 केडी जाधव (KD Jadhav), सुशील कुमार (Sushil Kumar), योगेश्वर दत्त (Yogeshwar Dutt), साक्षी मलिक (Sakshi Malik) और रवि कुमार दहिया (Ravi Kumar Dahiya) के बाद पुनिया (Punia) ओलंपिक पोडियम पर समाप्त होने वाले छठे भारतीय पहलवान बने। 2012 के लंदन ओलंपिक (London Olympics) के बाद यह दूसरा मौका है जब दो भारतीय पहलवानों ने एक ही खेलों में पदक जीते।

महत्वपूर्ण तिथियाँ 

7 अगस्त को मनाया गया राष्ट्रीय हथकरघा दिवस

भारत ने भारतीय हथकरघा उद्योग (Indian handloom industry) की विरासत को प्रदर्शित करने के लिए 7वें राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) को चिह्नित किया है। 

यह दिन स्वदेशी आंदोलन (Swadeshi Movement) को मनाने और हमारे देश के समृद्ध कपड़े और रंगीन बुनाई (rich fabrics and colourful weaves) का जश्न मनाने का दिन है।

भारतीय हथकरघा उद्योग (Indian handloom industry) की विरासत को प्रदर्शित करने और देश भर के बुनकरों को सम्मानित करने के लिए पूरा देश इस दिन को चिह्नित करेगा। यह पहली बार 2015 में भारत सरकार द्वारा मनाया गया था।

राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day) देश के सामाजिक-आर्थिक विकास (socio-economic development) में हथकरघा (handloom) के योगदान पर ध्यान केंद्रित करने और बुनकरों (weavers) की आय बढ़ाने पर केंद्रित है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.